Homeknowledgeकॉपी किस से बनती है कॉफी के फायदे और नुक्सान पूरी जानकारी

कॉपी किस से बनती है कॉफी के फायदे और नुक्सान पूरी जानकारी

भारत में लगभग सभी घरों में सुबह की शुरुआत चाय से या कॉफी से ही होती है भारत में ज्यादातर लोग चाय पीना पसंद करते हैं लेकिन कुछ लोग कॉफी के भी शौकीन होते हैं सुबह एक कप कॉफी उनके पुरे दिन में “चार चांद” लगा देती है यदि आप भी कॉपी पीना पसंद करते हैं या कॉफी पीना शुरू करने वाले हैं तो आपको यह जरूर पता होना चाहिए कि कॉपी किस से बनती है|

आज का यह आर्टिकल आप की कॉपी से जुड़ी नॉलेज को और भी बढ़ा देगा और कॉफी से जुड़े सभी सवाल जैसे कॉपी किस चीज से बनती है, कॉफी कैसे बनती है और कॉफी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है या उसके क्या लाभ और हानि इस के जवाब भी देगा|

कॉफी क्या होती है

कॉफी एक काले रंग की पेय पदार्थ है जिसे बीजो को भूनकर उनके पाउडर से बनाई जाती है कॉफी की शुरुआत लगभग पन्द्रवीं शताब्दी के बाद से हुई थी|

कॉफी पीने के बहुत से फायदे हैं जैसे यह एनर्जी को बढ़ाती है मोटापा कम करती है तनाव को कम करती है कैंसर और त्वचा रोगो से लड़ती है कॉपी में एक विशेष तरह का केमिकल कैफीन होता है जो शरीर में जाते हैं शरीर को फ्रेश और ऊर्जावान कर देता है|

कॉपी किस से बनती है

कॉफी कॉफिया अरेबिका नामक पौधे के फलो के बीजो से बनती है लेकिन कॉफी को एक पौधे के फल से लेकर उसके असली पाउडर के रूप में आने तक बहुत सी प्रोसेसिंग की जाती है जिसके बाद ही आपको कॉफी का पाउडर देखने को मिलता है जिससे कॉफी बनायी जाती है कॉफी बनाने की पूरी Process इस प्रकार होती है|

कॉफी किस चीज से बनती है
  • सबसे पहले कोफिया अरेबिका पौधे से कॉफी बीजो के लिए लाल रंग के बेर(Berry) तोड़कर उन्हें अच्छी तरह से पानी से धोया जाता है|
  • धोने के बाद इन बेर में से बीज निकाले जाते हैं जिन्हें coffee bean(कॉफी के बीज) कहते हैं|
  • कॉफी बीन को धोकर 4 से 5 दिन तक कड़ी धूप में सुखाया जाता है सूखने के बाद यह कॉफी बीन बिल्कुल गेहूं के दाने की तरह दिखने लगते हैं लेकिन यह इस समय कच्चे होते हैं|
  • बीजो के सूखने के बाद उन्हें 356 डिग्री तापमान पर एक Roasting कंटेनर मैं भुना जाता है|
  • भुने जाने के बाद कॉफी बीन काले रंग के हो जाते हैं और यह पूरी तरह से पक जाते हैं इन्हे पीसकर इनका पाउडर बना लिया जाता है और इसी पाउडर का उपयोग सभी लोग कॉफी बनाने में और पिने मैं करते हैं|
कॉपी किस से बनती है

कॉफी कितने प्रकार की होती है

कॉपी किस से बनती हैं यह जानने के बाद कॉफी कितने प्रकार की होती है यह जानना भी जरुरी है दुनिया भर में अलग-अलग तरह की अलग-अलग कॉपी उपलब्ध है लेकिन ज्यादातर 30 तरह की Coffee पूरी दुनिया में लोकप्रिय है, वहीं अगर भारत की बात करें तो यहां पर लगभग 7 प्रकार की कॉपी है जो ज्यादातर भारतवासी पीते हैं या पीना पसंद करते हैं|

  1. Espresso
  2. Flat white
  3. Americano
  4. Macchiato
  5. Latte
  6. Cappuccino
  7. Mocha

Espresso Espresso सबसे ज्यादा Strong कॉफी होती है यह 30-35 ml पानी और एक निश्चित मात्रा में कॉफी पाउडर मिलाकर बनाई जाती है Espresso को नीट नहीं पिया जाता है इसको पीने के लिए इसमें दूध या पानी मिलाना जरूरी होता है और Espresso के जरिये दूसरी कॉफी की Strength भी बड़ाई जाती है|

Flat White Espresso में दूध डालकर बनाई गई कॉफी Flat White Coffee होती है|

Macchiato यदि आप Espresso में केवल दूध का झाग(Milk Foam) डालते हैं तो वह कॉपी Macchiato कॉपी बनती है यह कॉफी Espresso के बाद दूसरी सबसे ज्यादा Strong कॉफ़ी होती है|

Americano यदि espresso मैं ज्यादा मात्रा मैं पानी मिला दिया जाता है तो उसे Americano कॉफ़ी बनती है|

Latte Espresso मैं यदि आप दूध और दूध का झाग दोनों डाल देते है तो Latte कॉफ़ी बनती है|

Cappuccino Espresso मैं यदि आप एक सामान मात्रा मैं दूध और दूध का झाग मिला देते है तो वह Cappuccino कॉफी बनती है|

Latte और Cappuccino मैं केवल इतना अंतर होता है कि latte में दूध और दूध के झाग की मात्रा ज्यादा होती है जिससे यह Light और Creamy कॉफी होती है, Cappuccino मैं दूध, दूध का झाग और Espresso तीनों की मात्रा समान होती है जिससे यह Strong Coffee होती है|

Mocha Mocha कॉफी भी Latte और Cappuccino की तरह ही दूध और दूध के झाग से बनती है लेकिन इसमें Chocolate Syrup डाला जाता है जिससे यह Chocolate टेस्ट देती है इसे Chocolate Coffee भी कहते है|

कॉफी पिने के फायदे और नुक्सान

एक Report के अनुसार कॉफी पिने के फायदे और नुकसान इस प्रकार है-

फायदे-

  • कॉफी इंसान के शरीर में Energy level को बढ़ती है जिससे जल्दी थकान नहीं होती|
  • कॉफी को मोटापा घटाने का भी एक आरामदायक और स्वादिष्ट तरीका माना जा सकता है कॉपी में उपस्थित कैफीन शरीर मैं मेटाबॉलिक रेट को बढ़ाता है जिससे मोटापा घटता है|
  • कॉपी में Potassium, Magnesium, Magness और दूसरे बहुत से पोषक तत्व होते हैं जो शरीर की स्वस्थता को बनाए रखते है|
  • कॉफी पीने से डायबिटीज होने का खतरा भी बहुत कम हो जाता है|
  • कॉफी मैं उपस्थित पोषक तत्व Depression जैसी मानसिक बीमारि से भी लड़ते है|
  • कैंसर सबसे बड़ी बीमारी मानी जाती है कॉफी पीने वाले ज्यादातर लोगों को कैंसर होने का खतरा बहुत कम होता है यह सबसे बड़े दो कैंसर बीमारी लीवर कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर को होने से रोकती है|
  • कॉफी पीने से कुछ मात्रा में ब्लड प्रेशर बढ़ता है लेकिन यह दिल से जुड़ी बीमारी और स्ट्रोक जैसी बीमारी से भी शरीर को प्रोटेक्ट करती है|
  • क्योंकि कॉपी ज्यादातर बड़ी बीमारियों को होने से रोकती है जिससे यह माना जा सकता है कि कॉफी पीने वाला व्यक्ति सामान्य जीवन जीने वाले लोगो से ज्यादा समय तक जीता है|

नुकसान –

  • ज्यादा कॉफी पीने से Anxiety होने का खतरा रहता है कॉफी से एनर्जी तो बढ़ती है लेकिन इससे अनिद्रा(नींद न आने की) की बीमारी भी हो सकती है|
  • कॉफी पीने से पाचन संबंधी समस्याएं भी उत्पन्न होती है और एक समय में बहुत अधिक कॉफी पीने से दस्त भी हो सकते हैं|
  • सिर दर्द होना, जी मचलना, घबराहट जैसी छोटी बीमारियां भी कॉपी की ज्यादा मात्रा लेने पर शरीर पर हावी हो सकती है|
  • Caffeine से जुड़े सभी पदार्थों की यह समस्या जरूर होती है कि एक समय के बाद इनकी लत(Addiction) लग जाती है जिससे यह ना मिलने पर थकान, सिरदर्द और चिड़चिड़ापन होने लगता है|
  • कॉफी के फायदे के अनुसार यह दिल से जुड़ी बीमारियो से तो बचाती है लेकिन यदि किसी को ब्लड प्रेशर से जुड़ी समस्या है तो उसका निश्चित मात्रा में कॉफी पीना या कॉफी का सेवन ना करना ही बेहतर है क्योंकि यह ब्लड प्रेशर को बढ़ाती है|

कॉफी पीने का सही समय

कॉफी पीने का एक सही समय तो नहीं है लेकिन Research के अनुसार यदि आप सुबह उठते ही कॉफी पीते हैं तो इससे कॉफी का आपके शरीर पर ज्यादा असर नहीं होता है क्योंकि इस समय आपके शरीर मैं कार्टिसोल नामक हार्मोन अपने चरम स्तर पर होता है, कॉर्टिसोल हार्मोन शरीर में सतर्कता और फोकस को बढ़ाने का काम करता है इसलिए ज्यादातर रिसर्च के अनुसार कॉफी सुबह उठने के 1 या 2 घंटे बाद या सामान्य समय सुबह 9:30 – 11:30 के बीच पीना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है|

कॉफी की खेती कहां होती है

दुनिया में सबसे ज्यादा कॉफी की खेती Brazil, Vietnam, Ethiopia में की जाती है भारत कॉफी की खेती में दुनिया में सातवें नंबर पर आता है पूरे भारत में कर्नाटक प्रथम स्थान है जहां सबसे ज्यादा कॉफी की खेती जाती है जिसके बाद केरल तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और उड़ीसा आते हैं|


मुझे आशा है कि मेरे द्वारा लिखा गया यह कॉपी किस से बनती है से जुड़ा आर्टिकल आपको पसंद आया होगा मेरा हमेशा से यही प्रयास रहता है कि मैं इस प्रकार के विषयों के बारे में सभी लोगों को एक सरल और सही जानकारी दे सकूं जिससे उन्हें किसी और वेबसाइट या ब्लॉग पर जाने की जरूरत ना पड़े, आपका इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल है या इस आर्टिकल में किसी प्रकार की कोई गलती है तो हमें कमेंट में जरूर बताएं इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें|

Free Movies कैसे डाउनलोड करे?

Movie डाउनलोड करने का सबसे आसान तरीका|

Jitendra Aakdehttps://jitubaba.com
Welcome दोस्तों, मैं jitubaba का Author हूँ. मैं एक Computer Engineer हूँ. मुझे नए नए ज्ञान को प्राप्त करना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मैं आपसे निवेदन करता हु की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहिये और मैं आपके लिए इसी प्रकार की नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाता रहूँगा| धन्यवाद

1 COMMENT

  1. […] Coffee production is a significant source of jobs for workers in India as over 2.5 Lakh coffee growers are found in India. In the previous fiscal period, i.e. 2014-15, the total amount of coffee made in India totaled 3.27 Lakh Metric Tonnes. Additionally, the total coffee production is anticipated to exceed the threshold at 3.5 Lakh Metric Tonnes in the coming financial year. […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here