HomeCryptocurrencyएनएफटी क्या है कैसे काम करता है?

एनएफटी क्या है कैसे काम करता है?

क्या आप भी सोच रहे हैं कि NFT इतना प्रचलित क्यों हो रहा है और एनएफटी क्या है यह कैसे काम करता है तो आज यह आर्टिकल आपके एनएफटी से जुड़े सभी सवालों के जवाब जानने में मदद करेगा|

एनएफटी को ज्यादातर लोग नहीं जानते थे लेकिन जैक डोर्सी जो कि टि्वटर के CEO हैं उन्होंने 2006 में Twitter पर एक पोस्ट की थी जिसकी नीलामी 20 करोड़ रूपये में हुई और यह पोस्ट जैक डोर्सी ने एनएफटी के रूप में बेचा था साथ ही एक अमेरिकन आर्टिस्ट माइक विंकलमैन द्वारा बनाई गई पेंटिंग 5 अरब में बिकी जिसे भी NFT का दर्जा दिया गया इसके बाद से ही NFT सोशल मीडिया पर बहुत ही ज्यादा पॉपुलर हो गया और लोगों में इसके बारे मैं जानने की उत्सुकता होने लगी|

भारत के सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और रजनीकांत जैसे बड़ी हस्तियों ने भी अपने खुदके के एनएफटी लांच किए हैं एनएफटी को Cryptocurrency का अगला कदम माना जा रहा है तो आइए हम जान लेते हैं कि NFT क्या है?

एनएफटी क्या है-

एनएफटी की फुल फॉर्म Non-Fungible Token है NFT को साधारण भाषा में समझे तो या एक डिजिटल संपत्ति है या पहचान है सामान्य जीवन की वस्तुएं जैसे वीडियो, गाना, पेंटिंग और डिजिटल आइटम इन सभी का प्रतिनिधित्व करती है NFT के माध्यम से इन सभी वस्तुओं का आसानी से बेचा और खरीदा जा सकता है बिना किसी तीसरे व्यक्ति के या माध्यम के|

एनएफटी में आपको 2 शब्द देखने को मिलते है एक Non-Fungible और दूसरा Token, Non-Fungible को आप Non-Replaceable भी कह सकते हैं|

Non-Fungible – ऐसी कोई वस्तु जो Unique है, सबसे अनोखी है, अद्वितीय है जो केवल दुनिया में एक ही है या बहुत कम मात्रा में उपलब्ध है उदाहरण के लिए कोई Painting, Music, Video और बहुत सी चीजें जिनका केवल एक ही प्रोडक्ट या वेरिएंट उपलब्ध हो उसे आप Non-Fungible कह सकते हैं|

“ऐसी कोई वस्तु जो Unique हो और Non-Replaceable हो”

Token – टोकन को आप एक नाम, नंबर, कोड या करेन्सी समझ सकते है जो ब्लॉकचैन की दुनिया मैं किसी एनएफटी के साथ जुड़ता होता है, “टोकन को ब्लॉकचैन दुनिया की करेन्सी भी केह सकते है”

उदाहरण के लिए जब भी आप कोई बैंक अकाउंट से पैसों का लेनदेन करते हैं तो आपकी ट्रांजैक्शन की पूरी डिटेल बैंक के पास होती है और बैंक उसे एडिट ओर डिलीट कर सकती है क्योंकि बैंक के पास आपके अकाउंट की ओनरशिप है, इसे Centralized तरीका कहा जाता है इसका मतलब किसी एक व्यक्ति के पास यह शक्ति होती है कि वह चीजों में बदलाव कर सकता है|

लेकिन 2009 में Satoshi Nakamoto नामक व्यक्ति ने इस centralized तरीके को Decentralized बनाने पर विचार किया मतलब यदि आपके द्वारा कोई बैंक से लेन-देन किया जाता है तो उसकी जानकारी पूरी दुनिया को हो या एक पब्लिक रिकॉर्ड की तरह हो जिसका बैंक मालिक नहीं हो उस एक Transaction को पूरी जनता देख सकती है और किसी एक के द्वारा उसे Edit या Delete न किया जा सके, इसी तरीके को ब्लॉकचेन का नाम दिया गया|

ब्लाकचैन टेक्नोलॉजी में NFT एक तरीका है जो Ethereum ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर काम करता है जिससे कोई भी Physical और Non-Physical वस्तु को खरीद सकता है या उसे बनाकर उसका मालिक बन सकता है|

“NFT किसी वस्तु के अधिकार(स्वामित्व, मालिक, Ownership) को स्थानांतरित करने का एक मान्य(Valid) या वैध तरीका है”

अब आपके मन में यह सवाल जरूर होगा कि हम किसी भी Image, Video या Music को ऑनलाइन आसानी से देख सकते हैं या डाउनलोड कर सकते हैं तो उस पर लाखों खर्च करने की और उसे एनएफटी बनाने की क्या जरूरत है? क्योकि किसी एक वस्तु का मालिक कोई एक ही व्यक्ति या कोई एक ही संस्था हो सकती है एनएफटी खरीदार या उस वस्तु को बनाने वाले को उस वस्तु के मालिक होने का हक़ या अनुमति देता है साथ ही NFT मैं Built-in-Authentication का Option होता है जो वस्तु के मालिक की Ownership को Proof करने का काम करता है|

NFT के आने का मुख्य उद्देश्य यही है कि किसी भी लेनदेन में बिचौलिया(Middleman, दलाल) की आवश्यकता नहीं हो एक वस्तु के मालिक द्वारा किसी अन्य व्यक्ति को सीधे वह वस्तु बेचीं जा सके|

यह भी पड़े-

Blogging क्या है कैसे कमाते है लाखो|

CPC क्या है और इसे कैसे बढ़ाया जाता हैं|

भारत की Cyber Security.

NFT और Cryptocurrency

एनएफटी क्या है यह तो आप समझ ही गए होंगे लेकिन यह Cryptocurrency में क्या महत्व रखती है यह जानना भी जरूरी है, बिटकॉइन और Ethereum जैसी Cryptocurrency को एक समान Computer Programming का उपयोग करके बनाया गया है लेकिन यहां पर आपको Cryptocurrency की वैल्यू समान देखने को मिलती है, पैसे और बिटकॉइन Cryptocurrency को आपस में बदल सकते हैं एक डॉलर हमेशा दूसरे डॉलर के बराबर होगा एक बिटकॉइन हमेशा दूसरे बिटकॉइन के बराबर होगा|

NFT इससे अलग है प्रत्येक व्यक्ति जिसके पास एनएफटी है उसके पास से एनएफटी का ही डिजिटल हस्ताक्षर है या Proof है प्रत्येक एनएफटी की एक अलग पहचान है, अलग कोड, अलग वैल्यू है इसलिए एनएफटी का एक दूसरे के बदले आदान-प्रदान करना असंभव है उदाहरण के तौर पर जैक डोर्सी का Twitter पोस्ट और माइक विंकलमैन की पेंटिंग दोनों अलग है, दोनों की अलग कीमत है इसलिए आपस में इन्हे Exchange नहीं किया जा सकता|

एनएफटी क्यों जरुरी है-Why NFT Important

NFT Cryptocurrency की दुनिया में टेक्नोलॉजी का अगला कदम है NFT का एक सबसे जरूरी हिस्सा है स्वामित्व(अधिकार, Ownership) जिससे किसी भी एक वस्तु के मालिक अनेक नहीं हो सकते और साथ ही एनएफटी का एक फायदा यह भी है किसी वस्तु को खरीदने पर उस वस्तु का नकली होने का जोखिम भी नहीं होता|

साथ ही कलाकारों और Creator(निर्माताओ) के लिए एनएफटी एक बेहतर तरीका हो सकता है अपनी कला से बनाया गयी चीज़ो को सही तरीके से और सही कीमत पर सही व्यक्ति को बेचने का, कलाकार या क्रिएटर को किसी भी प्रकार की नीलामी या किसी बीच वाले व्यक्ति की आवश्यकता खत्म हो जाती है जिससे वह सीधा किसी को भी एनएफटी के जरिए अपने आइटम बेच सकता है|

एनएफटी कैसे काम करता है-How NFT work

NFT ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर काम करता है ब्लॉकचेन में सार्वजनिक रूप से सभी लेनदेन का रिकॉर्ड रहता है आमतौर पर एनएफटी एथेरियम ब्लॉकचेन पर काम करता है और दूसरे ब्लॉकचेन भी इसका समर्थन करते हैं, एनएफटी को या तो बनाया जा सकता है या खरीदा जा सकता है, NFT अलग-अलग तरिके के बहुत से Physical और Non-Physical item हो सकते है इन सभी में से कुछ मुख्य है जो अभी तक चर्चा में रहे हैं-

  • GIFs
  • Video और Sports Highlights
  • संग्रणीय(Collectibles)
  • Video game
  • Music

एनएफटी में एक समय पर एक ही मालिक हो सकता है लेकिन एनएफटी का डाटा Buyer और Seller के बीच में टोकन ट्रांसफर करने का काम भी करता है, मालिक या NFT बनाने वाला NFT के मेटाडैटा में अपने हस्ताक्षर या नाम भी रख सकता है|

एनएफटी का मूल्य कैसे निर्धारित किया जाता है

क्योंकि एनएफटी किसी निर्माता द्वारा बनाया जाता है तो उसे किस कीमत पर बेचा जाना चाहिए यह भी निर्माता द्वारा ही तय किया जाता है यदि किसी seller से आप एनएफटी खरीदते हैं तो NFT Decentralized होने के कारण आप को बेचने की कीमत भी seller द्वारा ही तय की जाती है|

अंतिम राय

बहुत से लोगों का कहना है कि NFT से अच्छा पैसा कमाया जा सकता है लेकिन मेरे अनुसार यह अभी के शुरुआती समय मैं बहुत ही रिस्की है और इसे अभी पूरी तरह से उभरने में समय लगेगा, NFT से पैसे कमाने के बारे में सोचना अभि के लिए थोड़ा जल्दी होगा लेकिन यदि आप इंटरेस्ट रखते हैं तो कम से कम एक बार जरूर एनएफटी को खरीदने और बेचने का सोचे यह एक नई टेक्नोलॉजी है बहुत से लोग इस पर विचार कर रहे हैं|

मुझे आशा है कि मेरे द्वारा लिखा गया यह Non fungible token meaning in Hindi से जुड़ा आर्टिकल आपकी नॉलेज को बढ़ाने में सहायक रहा होगा मैं हमेशा से इसी प्रकार की नई टेक्नोलॉजी के बारे में आसान और सही तरीके से जानकारी शेयर करता रहता हूं|

आपको इस लेख से कुछ जानने को मिला हो तो इसे सोशल मीडिया और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और इस आर्टिकल में किसी प्रकार की कोई गलती हो तो मुझे कमेंट में जरूर बताएं|

Jitendra Aakdehttps://jitubaba.com
Welcome दोस्तों, मैं jitubaba का Author हूँ. मैं एक Computer Engineer हूँ. मुझे नए नए ज्ञान को प्राप्त करना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मैं आपसे निवेदन करता हु की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहिये और मैं आपके लिए इसी प्रकार की नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाता रहूँगा| धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here